दिल की धड़कन रुक सी गई

दिल की धड़कन रुक सी गई,
सांसें मेरी थम सी गई,
पूछा हमने दिल के डॉक्टर से तो पता चला,
कि सर्दी के कारण आपकी यादें दिल में जम सी गई।

मोहब्बत कोई चीज़ नही

मोहब्बत कोई चीज़ नही,
जिसे पैसे से हासिल किया जा सके,
इश्क़ कोई मुक़द्दर नहीं,
जिसे तक़दीर पे छोड़ा जा सके,
प्यार तो एक विश्वास है,
भरोसा है, ऐतबार है,
पर मोहब्बत इतनी आसान नही की किसी से भी किया जा सके!!!

जब भी उनकी गली से गुज़रते है

जब भी उनकी गली से गुज़रते है,
मेरी आँखें एक दस्तक दे देती है,
दुःख ये नहीं वो दरवाजा बंद कर देते है
ख़ुशी ये है की मुझे पहचान लेते है|

सिर्फ इशारों में होती महोब्बत अगर

सिर्फ इशारों में होती महोब्बत अगर,
इन अलफाजों को खुबसूरती कौन देता?
बस पत्थर बन के रह जाता ‘ताज महल’
अगर इश्क इसे अपनी पहचान ना देता..

वो प्यार जो हकीकत में प्यार होता है

वो प्यार जो हकीकत में प्यार होता है,
जिन्दगी में सिर्फ एक बार होता है ,
निगाहों के मिलते मिलते दिल मिल जाये,
ऐसा इतेफाक सिर्फ एक बार होता है.

दिल की धड़कन रुक सी गई

दिल की धड़कन रुक सी गई,
सांसें मेरी थम सी गई,
पूछा हमने दिल के डॉक्टर से तो पता चला,
कि सर्दी के कारण आपकी यादें दिल में जम सी गई।

मोहब्बत कोई चीज़ नही

मोहब्बत कोई चीज़ नही,
जिसे पैसे से हासिल किया जा सके,
इश्क़ कोई मुक़द्दर नहीं,
जिसे तक़दीर पे छोड़ा जा सके,
प्यार तो एक विश्वास है,
भरोसा है, ऐतबार है,
पर मोहब्बत इतनी आसान नही की किसी से भी किया जा सके!!!

जब भी उनकी गली से गुज़रते है

जब भी उनकी गली से गुज़रते है,
मेरी आँखें एक दस्तक दे देती है,
दुःख ये नहीं वो दरवाजा बंद कर देते है
ख़ुशी ये है की मुझे पहचान लेते है|

सिर्फ इशारों में होती महोब्बत अगर

सिर्फ इशारों में होती महोब्बत अगर,
इन अलफाजों को खुबसूरती कौन देता?
बस पत्थर बन के रह जाता ‘ताज महल’
अगर इश्क इसे अपनी पहचान ना देता..

वो प्यार जो हकीकत में प्यार होता है

वो प्यार जो हकीकत में प्यार होता है,
जिन्दगी में सिर्फ एक बार होता है ,
निगाहों के मिलते मिलते दिल मिल जाये,
ऐसा इतेफाक सिर्फ एक बार होता है.

दिल की धड़कन रुक सी गई

दिल की धड़कन रुक सी गई,
सांसें मेरी थम सी गई,
पूछा हमने दिल के डॉक्टर से तो पता चला,
कि सर्दी के कारण आपकी यादें दिल में जम सी गई।

किसी के दिल में बसना कुछ बुरा तो नहीं!

किसी के दिल में बसना कुछ बुरा तो नहीं!
किसी को दिल में बसाना कोई खता तो नहीं!
गुनाह हो यह ज़माने की नज़र में तो क्या!
ज़माने वाले कोई खुदा तो नहीं..!!

मोहब्बत कोई चीज़ नही

मोहब्बत कोई चीज़ नही,
जिसे पैसे से हासिल किया जा सके,
इश्क़ कोई मुक़द्दर नहीं,
जिसे तक़दीर पे छोड़ा जा सके,
प्यार तो एक विश्वास है,
भरोसा है, ऐतबार है,
पर मोहब्बत इतनी आसान नही की किसी से भी किया जा सके!!!

जब भी उनकी गली से गुज़रते है

जब भी उनकी गली से गुज़रते है,
मेरी आँखें एक दस्तक दे देती है,
दुःख ये नहीं वो दरवाजा बंद कर देते है
ख़ुशी ये है की मुझे पहचान लेते है|

सिर्फ इशारों में होती महोब्बत अगर

सिर्फ इशारों में होती महोब्बत अगर,
इन अलफाजों को खुबसूरती कौन देता?
बस पत्थर बन के रह जाता ‘ताज महल’
अगर इश्क इसे अपनी पहचान ना देता..

वो प्यार जो हकीकत में प्यार होता है

वो प्यार जो हकीकत में प्यार होता है,
जिन्दगी में सिर्फ एक बार होता है ,
निगाहों के मिलते मिलते दिल मिल जाये,
ऐसा इतेफाक सिर्फ एक बार होता है.